सरूर

चाहे देखो दुश्मनी से पर देखिये जरूर 
खुश रहूंगी आपकी नजर में हूँ हुज़ूर
माना जी की आप में है बेइंतेहा गरूर 
हम पर भी तो है प्यार का बेइंतेहा सरूर

Leave a Reply