सज़दा

जो तेरी आवाज़ को आज अनसुना कर देंगे
हो सकता है तेरे वज़ूद को भी फ़ना कर देंगे  
वक़्त आएगा सुनेंगे  तेरी ख़ामोशी भी
यकीनन तेरी अना को भी सज़दा कर देंगे

Leave a Reply