क़रीब

मना किया था मैंने उसे
करीब इतना नहीं जाते 
जो कहानी ख़त्म होती हो 
उसे नयी नहीं बनाते 
ना माना ,वो ना जाने कैसे
नयी कहानी लिख गया 

Leave a Reply