मासूम

रूठ कर भी रूठी नहीं 
टूट कर भी टूटी नहीं 
छूट कर भी छूटी नहीं 
रीत कर भी रीति नहीं
मिट कर भी मिटी नहीं  
कैसी मिटटी से बनी है ?
आइना देखूं तो तू आज भी 
मासूम लगती है !
​

Leave a Reply