निरंतरता

छोटे छोटे कदम मज़बूती से रख 
धीरे धीरे रख मगर आगे रख  
बड़ा लक्ष्य साधना है तुझे 
तो निरंतरता बना के रख
यही तेरी जीत की है पहली सीढ़ी   
ज़िन्दगी हमेशा ही है आडी-टेढ़ी 
भरमाने भटकाने को बहुत मिलेंगे तुझे 
तेरी निरंतरता ही तुझे रखेगी खड़ा हर घड़ी  

Leave a Reply