बेटी

तू मेरी लाड़ली
मेरा प्यार तू 
है दुलार तू
रब की नेमत तू 
मेरा सहारा तू 
मेरी इज़्ज़त तू 
मेरी हिम्मत तू
सिर्फ एक दिन नहीं 
पूरी ज़िन्दगी तू 
तेरे लिए मेरा सब कुछ 
मेरे लिए है सब कुछ तू 
मेरी आन बान शान तू 
मेरी हर दुआ लगे तुझे 
करे जग में ऊंचा नाम तू !
प्यार से जीवन भरा रहे 
ममता की है मिसाल तू 
कभी बुरी नज़र ना लगे तुझे 
बने बेटियों में मिसाल तू!
तू मेरी लाड़ली
मेरा प्यार तू 



8 thoughts on “बेटी

Leave a Reply to anupama shukla Cancel reply