आधार

सच ही सार है झूठ निस्सार है 
प्यार ही सार है नफरत निस्सार है 
निस्सार संसार ये झूठ पर टिका हुआ 
सच और प्यार ही मगर इसका आधार है 

3 thoughts on “आधार

Leave a Reply