बगावत

जब से ये दिमाग दिल का काम करने लगा 
मासूम चेहरा आंसुओं से तर ब तर  रहने लगा 
लब बोलते हैं कुछ, और दिल में है कुछ और ही !
लाख समझाया मगर दिल बगावत पे उतरने लगा 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s