साथ

वो थोड़ी देर का साथ तुम्हारा, जीवन को महकाए है
वो मीठी-सी आवाज़ लगाना, दिल को भी तड़पाये है
तुम बस गए हो जाना मेरी, रूह में भी और साँसों में
वो बातों-बातों में तेरा छेड़ना, मीठी कसक जगाये है

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s