असर

किसीकी बातें किसीकी यादें 
हम पर ना असर कर पाएँगी 
जब भी लौट कर आएँगी 
हमे और मज़बूत पाएँगी