उसकी हालत न बदलेगी

जब तक नारी न बदलेगी उसकी हालत न बदलेगी 
जब तक नारी न बोलेगी उसकी हालत न बदलेगी
जब तक नारी अशिक्षित है उसकी हालत न बदलेगी
तर्कसंगत यदि सोच न होगी उसकी हालत न बदलेगी 
जब तक खुद पे विश्वास नहीं, उसकी हालत न बदलेगी
जब तक है दूजों पर निर्भर, उसकी हालत न बदलेगी
जब तक भावनाओं का जोर, उसकी हालत न बदलेगी
औरत औरत का साथ न दे तो उसकी हालत न बदलेगी
यदि देवी कहलाने का लालच, उसकी हालत न बदलेगी
चाहे जितना जोर लगा लो, उसकी हालत न बदलेगी 
जब तक इतिहास से सबक न लेगी, उसकी हालत न बदलेगी 
खुद को बदलना बहुत ज़रूरी वर्ना हालत न बदलेगी 
             ✍️ सीमा कौशिक 'मुक्त' ✍️