बेजुबान

बेजुबान हो गए हैं हम, 
 शायद हसरतें दम तोड़ जाएँ। 
 कुछ बोले तो मर जाएगा रहा सहा रिश्ता,  
 न बोले तो धड़कनें न रुक जाएँ।