रास

यार ज़िन्दगी से छत्तीस का आंकड़ा मत रख 
प्यार कर, 'खुद' से बेवफाई रास न आएगी
              ✍️ सीमा कौशिक 'मुक्त' ✍️